जुल्फ़े बिखर गई तो एहसास-ए-शब हुआ वर्ना जहान-ए-इश्क़ में न दिन है न रात हैं..... #शायरी...❤

Sep 1, 2021 · 2:05 AM UTC