Joined December 2015
क्यूट सी बच्ची को मेरा सलाम बेटा आप इसी तरह इस देश का और अपने कश्मीर का नाम रिपोर्टिंग के माध्यम से ही अपनी जन समस्याओं को उठा कर हमारे देश के प्रधानमंत्री प्रधान सेवक के सामने रखें ताकि हमारा देश सुरक्षित हाथों में और सुरक्षित बाहों में रहे और इसी के साथ आधार आगे बढ़ते रहे
1
0
0
0
इसी के साथ मैं अपने देश के प्रधान सेवक से अनुरोध करता हूं कि इस बच्ची की आवाज को सुनकर जो रास्ता इतना गड़बड़ है उसको आप जल्द से जल्द ठीक करवाएं ताकि इस मासूम बच्ची के साथ-साथ लोगों का आना-जाना शुगम हो सके। और लोग अपने रोजमर्रा की जिंदगी में आसानी से जीवन जी सके
0
0
0
0
सही कहा सर आपने क्योंकि मैं भी बहुत आम लोगों के बीच में उठता बैठता हूं।हूं तो साधारण सा पर्सन किंतु प्रधान सेवक एवं पिता तुल्य संत श्री की बढ़ाई करते करते लोग थकते नहीं है जैसा आपने खुद ही बता दिया है। मेरी आवाज अगर केंद्र एवं राज्य के मुखिया व तक पहुंच रही है
1
0
0
0
तो इसमें घबराने की जरूरत नहीं इससे हमें नजीर वह सीख लेने की जरूरत है कि स्वार्थी हम लोगों को पार्टी में लेकर हम कुछ दिन तो सत्ता में रह सकते हैं किंतु वह ज्यादा दिनों तक नहीं रहने वाले क्योंकि उन्हें लोभ और लालच नहीं रहने देगा यह मानव का स्वभाव है क्योंकि भ्रष्टाचारी किस्म का
1
0
0
0
पर्सन योग्य एवं इमानदार के साथ ज्यादा दिन तक नहीं चल सकता है तो मेरा सुझाव है कि आप अपने कार्यकर्ताओं को ज्यादा से ज्यादा तवज्जो दें जो योग्य एवं कर्मठ हैं अपने कामों के माध्यम से बाहर से आए हुए लोगों पर विश्वास जताने से ही नुकसान होता है इसलिए अपने इमानदार कार्यकर्ताओं पर
1
0
0
0
इमानदारी से बीच में जाएं और कार्यकर्ताओं को हर्ष और उल्लास के साथ काम करने के लिए प्रेरित करें ताकि पार्टी फिर से उसी स्टेज को प्राप्त कर सके जो 2017 में प्राप्त की थी और मेरा मानना है कि ऐसा जरूर होगा बस सही दिशा में तीर कमान से निकाल निशाना साधना की जरूरत है और आगे भी होगी।
0
0
0
0
भारत का पहला प्रधानमंत्री होने के नाते उनके सम्मान में हम भारतीय चाहते हैं कि जो सम्मान इनके नेताजी सुभाष चंद्र बोस के जीते जी नहीं मिला। हम आगरा करते हैं कि इनको वह सम्मान इनके शहीद होने पर दे दिया जाए और इनको गांधी को हटाकर इनको हर नोटों पर रख दिया जाए। किसी से भी हम इनकी
1
0
0
0
देशभक्ति की तो कोई मिसाल पेश नहीं कर सकते किंतु इनके कुछ पल के गांधी और नेहरू द्वारा दिए गए घाव पर मरहम जरूर लगा सकते हैं प्रधान सेवक से मेरा विनम्र आग्रह है कि क्या इन गांव पर थोड़ा सा मरहम आप भी लगा सकते हैं?
0
0
0
0
तक अगर हमारी बात पहुंच रही है तो अगर पाकिस्तान वाकई में भारत के साथ अपने इकोनामिक स्थिति को सुधारना चाहता है तो मैं प्रधान सेवक से अनुरोध करता हूं कि सबसे पहले पाकिस्तान से यह मांग की जाए कि वहां के पाकिस्तानी आतंकवादी जो हमारे देश में टेरर किए हैं जैसे मुंबई का आतंकी हमला दाऊद
1
0
0
0
इब्राहिम अजहर मसूद मसूद अजहर जैसे बड़े बड़े आतंकवादी को भारत को सौंपा इसके साथ जितने भी पीओके में आतंकवादी कैप चल रहे हैं उसको बंद करके उस में छिपे गद्दार एवं आतंकवादियों को भारत को समर्पित करें और जो भारत में बैठे गद्दारी करते हैं भारतीय उनकी लिस्ट जारी करें ताकि हम सभी को
1
0
0
0
भारत में बैठे गद्दार किस्म के आतंकवादी एवं पाकिस्तान में बैठे आतंकवादियों के बीच में हम भारतवासी भेद करना सीखें और इन को भारत के अंदर रहकर चीन का खात्मा कर सके। अगर आपको यहां तक पाकिस्तान तैयार होता है तो तब आप समझौता करने के लिए तैयार हो। किसी भी सूरत पर किसके साथ विश्वास
1
0
0
0
नहीं किया जा सकता क्योंकि यह गद्दार मुल्क भारत से गद्दारी करके अपनी सर्वे सर्वा हिफाजत करना चाहता है जिसका परिणाम हम भारतीय भुगत ते हैं।
0
0
0
0
यही इनकी असलियत है।
0
0
0
0
Show this thread